Wednesday, August 18, 2010

ब्लागिंग बाजार

चल रहे हैं
जो सिक्के
ब्लागिंग बाजार में,
वही असली हैं

फिर
भले चाहे
वो खोटे,
या चमड़े के हैं,

चलने
वालों की
जय जय
तो चलाने वालों की
जय जय

जय जय ब्लागिंग !

18 comments:

संजय भास्‍कर said...

जय जय ब्लागिंग !

संजय भास्‍कर said...

चलने वालों की
जय जय
तो चलाने वालों की
जय जय


..............लाजवाब पंक्तियाँ

Anonymous said...

सुन्दर पोस्ट, छत्तीसगढ मीडिया क्लब में आपका स्वागत है.

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

जय जय ब्लागिंग
जय हो

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

सब चल जाता है
टके सेर भाजी ट्के सेर खाजा
आभार

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

अच्छी पोस्ट है

आभार

ब्लॉ.ललित शर्मा said...

इसी तरह लिखते रहें

हिंदी सेवा करते रहें।

धन्यवाद

Randhir Singh Suman said...

nice

1st choice said...

all iss welll

Shah Nawaz said...

जय जय ब्लागिंग!

vandan gupta said...

बिल्कुल सही कहा।
आज इसी पर एक पोस्ट लिखी है यहाँ पढियेगा……………http://vandana-zindagi.blogspot.com


इसी दुखती रग को पकडा है आज्।

कविता रावत said...

Chalti ka naam gaadi...

vikram7 said...

sahii kaha aapane

आपका अख्तर खान अकेला said...

bhaayi bloging bazaar nhin he yeh aek mnch he yhaan bhaayi chaaraa sdbhaavna or aek dusre se sikhne sikhaane kaa vaataavrn to hmen bnana hi pdhegaa aapne bhut behtrin mudda chuaa he lekin is trf bhi zraa mud kr to dekhen bhut bhut mzaa aayegaa. akhtar khan akela kota rajsthan

hem pandey said...

अच्छा व्यंग्य.

डॉ. महफूज़ अली (Dr. Mahfooz Ali) said...

बहुत सुंदर भावाभिव्यक्ति....

राज भाटिय़ा said...

जय जय ब्लागिंग

पंकज मिश्रा said...

बहुत सुंदर, जय ब्लागिंग