Friday, September 10, 2010

गणपति बप्पा ...

बप्पा बप्पा, गणपति बप्पा
विघ्न विनाशक गणपति बप्पा !

तेरे-मेरे गणपति बप्पा
हम सबके हैं गणपति बप्पा !

गणपति बप्पा, गणपति बप्पा
घर घर विराजे गणपति बप्पा !

जय जय बोलो गणपति बप्पा
गणपति बप्पा, गणपति बप्पा !

लडडू लाओ, लडडू चढाओ
खाओ-खिलाओ गणपति बप्पा !

आँगन-आँगन ढोल बजाओ
बिराज गए हैं गणपति बप्पा !

गणपति बप्पा, गणपति बप्पा
हम सबके हैं गणपति बप्पा !

सबसे आगे गणपति बप्पा
सबके संग-संग गणपति बप्पा !

जोर से बोलो गणपति बप्पा
जय जय बोलो गणपति बप्पा !

सिद्धि विनायक गणपति बप्पा
बप्पा बप्पा, गणपति बप्पा !

विघ्न विनाशक गणपति बप्पा
बप्पा बप्पा, गणपति बप्पा !

जय जय बोलो गणपति बप्पा
गणपति बप्पा, गणपति बप्पा !!

11 comments:

महेन्द्र मिश्र said...

आपको भी गणेश चतुर्थी पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं ....

राज भाटिय़ा said...

श्री गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं !!!

प्रवीण पाण्डेय said...

जय जय जय जय गणपति बप्पा।

Coral said...

श्री गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं...

anjana said...

बहुत बढ़िया!

गणेश चतुर्थी एवं ईद की बधाई

मनोज कुमार said...

आपको और आपके परिवार को तीज, गणेश चतुर्थी और ईद की हार्दिक शुभकामनाएं!
फ़ुरसत से फ़ुरसत में … अमृता प्रीतम जी की आत्मकथा, “मनोज” पर, मनोज कुमार की प्रस्तुति पढिए!

अशोक बजाज said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति .आभार

डॉ. मोनिका शर्मा said...

श्री गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं...... बहुत अच्छी प्रस्तुति.... बहुत बढ़िया!
आभार

Rahul Singh said...

अच्‍छी सुमरनी.

राजभाषा हिंदी said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति।

हिन्दी, भाषा के रूप में एक सामाजिक संस्था है, संस्कृति के रूप में सामाजिक प्रतीक और साहित्य के रूप में एक जातीय परंपरा है।

देसिल बयना – 3"जिसका काम उसी को साजे ! कोई और करे तो डंडा बाजे !!", राजभाषा हिन्दी पर करण समस्तीपुरी की प्रस्तुति, पधारें

दिगम्बर नासवा said...

शुभकामनाएं ... गणेश चतुर्थी की हार्दिक शुभकामनाएं ....