Saturday, April 10, 2010

नक्सली समस्या ....... लैंड माईंस से बचत के उपाय !!!

नक्सलियों के कारगर हथियार "लैंड माईंस"जिसके इस्तमाल से विस्फ़ोट, धमाका, मौतें, गाडियों के परखच्चे ... वगैरह वगैरह ..... "लैंड माईंस" एक ऎसा हथियार जिसके हमले से सामने वाली पूरी-की-पूरी टीम धवस्त और अपनी टीम पूरी तरह सुरक्षित ..... आज तक लगभग सभी नक्सली हमले "लैंड माईंस" के कारण ही सफ़ल हुये और पुलिस असफ़ल ......... नक्सली अक्सर "लैंड माईंस" के लिये कच्ची अथवा टूटी-फ़ूटी पक्की सडक का चयन करते हैं .... साथ ही साथ उस सडक के "जिग-जैक"... "यू" आकार ... या फ़िर उतार-चढाव वाले सडक के हिस्से का चयन खासतौर पर किया जाता है ..... ये कार्य अत्यंत गोपनीय तौर पर कुछ विशेष नक्सलियों की टुकडी द्वारा ही संपादित किया जाता है !

आज हम "लैंड माईंस" से बचने के उपाय पर चर्चा शुरु करते हैं ..... "लैंड माईंस" से बचने का सर्वप्रथम कारगर उपाय तो "पुलिस मूवमेंट" में सावधानी बरतना .... खासतौर पर नक्सल प्रभावित क्षेत्र में कच्ची अथवा टूटी-फ़ूटी पक्की सडक पर वाहनों से मूवमेंट कतई नहीं करना .... अगर अत्यंत ही आवश्यक है तो मूवमेंट की जानकारी इतनी गोपनीय रहे कि वाहन के ड्राईवर तक को मालूम न हो कि कहां जाना है ..... साथ ही साथ वाहन से निकलते समय सीधे "टारगेट" वाले मार्ग पर मूव न होकर विपरीत दिशा के लिये मूव हों और लगभग आधे-पौन घंटे के पश्चात ही "घुमावदार" रास्ते से घूमते हुये "टारगेट" की दिशा पकडें ..... इस प्रक्रिया में ज्यादा-से-ज्यादा ये होगा कि एक-सबा घंटे का समय तथा पांच-सात लीटर डीजल/पेट्रोल ही बर्बाद होगा .... पर आप सही-सलामत अपने मुकाम पर पहुंच जायेंगे !!

8 comments:

Suman said...

nice

घटोत्कच said...

अच्छी जानकारी दे रहे हैं

KAVITA RAWAT said...

Vikat prathitiyon mein surakshit nikalne ki jaankari ke abhav mein bahut haadse ho jaate hain...
नक्सलियों के कारगर हथियार "लैंड माईंस se bach nikalne kee aapki yah jaankari upyogi hai...

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari said...

उदय भाई गुरिल्‍ला युद्ध व जंगल वार के प्रशिक्षण में इस मुद्दे पर विस्‍तृत रूप से जवानों एवं अधिकारियों को सारी बारीकियां बतलाई - सिखलाई जाती है. किन्‍तु उसके बावजूद भी छत्‍तीसगढ में जवानों को इसी "लैंड माईंस" से भारी नुकसान हुआ है. क्‍यों ? इसका जवाब तो मोर्चे में गये अधिकारियों से ही पता चल पायेगा.

आपने मुद्दे पर विमर्श आरम्भ किया इसके लिये धन्यवाद.

jamos jhalla said...

प्रभावशाली ढंग में आपनेविकराल समस्या का शाब्दिक चित्रण किया है|

prashanthindustani said...

bahut badiya hai... par hamare ac room me baithe afsaro ko samaj aye tab na...

sandhyagupta said...

Rochak aur upyogi jaankari di aapne.shubkamnayen.

कमलेश वर्मा said...

aapki salah thik hai par jahn yh sab ho raha hai ..shayad vhan hamari salah itni parbhavi naho ..yh to on spot faisla lene ki bat hai ...landmines..apno ne bichhayee hain ..doosron ne nahi ..tabhi itne sanyam se yh operation chal raha hai ..nahi to ak din me sara ilaka udaya ja sakta hai ..agar yh kisi aur desh ka hota ...!!!afsos..apne hi dusman ho gaye ..