Thursday, December 16, 2010

... जय जय भ्रष्टाचार ... जय जय भ्रष्टाचार ... !!!

क्यों भई नेता जी कहाँ जा रहे हो ... बस आदरणीय दिल्ली जा रहा हूँ अचानक सन्देश आया है "विशेष मीटिंग" आयोजित की गई है पहुँचना अत्यंत आवश्यक है ... ऐसी क्या बात हो गई ... बहुत गंभीर समस्या है अब आपसे क्या छिपाना, आप तो अपने ही हो ... क्या विशेष है ! ... धीरे धीरे जनता भ्रष्टाचारियों के खिलाफ होते जा रही है, स्थिति काफी ज्यादा चिंतनीय हो गई है यदि अभी कोई उपाय नहीं किया गया तो हम भ्रष्टाचारियों का जीना दुभर हो जाएगा !

... हाँ सच तो कह रहे हो, जल्दी करो उपाय, कहीं देर होने से लेने-के-देने पड़ जाएँ ... इसलिए ही विशेष तौर पर इस मीटिंग में सभी राजनैतिक पार्टियों के मुख्य मुख्य नेताओं को बुलाया गया है ... सभी पार्टियों के भी, क्यों ! ... अरे भाई अब ये बताओ ऐसी कौनसी पार्टी है जो भ्रष्टाचार नहीं करती है, आज की डेट में भला कौन दूध का धुला है ! ... हाँ कह तो सही रहे हो, क्या उपाय सोच कर जा रहे हो ?

... उपाय ही तो कुछ सूझ नहीं रहा है, आप तो जानते ही हो कि मेरी राय अंतिम राय होती है ! ... हाँ आप विशेष सलाहकार जो हो ... आप ही सुझा दो कोई उपाय, समय समय पर आपके सुझाव के भरोसे ही तो हमारी नेतागिरी चल रही है, पिछली बार आपके सुझाव पर ही तो उस "गूंगे" को देश का मुखिया बनाया था जो कितने अच्छे से काम कर रहा है कुछ भी करते रहो बेचारा कुछ बोलता ही नहीं है !

... हाँ हाँ सच कह रहे हो ... अब बताओ कोई उपाय ताकि हम भ्रष्टाचारी मौज-मजे करते रहें और ये संकट टल जाए ... बहुत गंभीर समस्या है और सवाल भी बहुत ही गंभीर लग रहा है, अब आप कहते हो तो उपाय तो बताना ही पडेगा ... हाँ हाँ बताओ जल्दी, मुझे अविलम्ब दिल्ली निकलना है ... तो ठीक है फिर कान "खुजा" के सुनो, कुछ भूल-भाल मत जाना ...

... हाँ बताओ ... एक काम करो, एक ऐसा "अमेंडमेंड" लाओ जो भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों की नाक में नकेल डाल दे ... हाँ हाँ बताओ कैसे ! ... ये तो सभी जानते हैं कि वर्त्तमान सिस्टम में भ्रष्टाचार के आरोप सिद्ध होना असंभव हैं क्योंकि सभी जांच एजेंसियां आपके ही अंडर में काम करती हैं आपके डायरेक्शन के बगैर बाहर नहीं जा सकतीं ... हाँ वो तो सही है ... तो फिर क्या, भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वालों को टाईट करने के लिए एक नया क़ानून बना दो ...

... वो क्या ? ... हाँ हाँ बता रहा हूँ हडबडी मत करो ... बताओ बताओ ... क़ानून ये रहेगा कि भ्रष्टाचार प्रमाणित होने पर भ्रष्टाचारी को २० साल की सजा होगी तथा प्रमाणित नहीं होने पर भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले को १० साल की सजा होगी, वो इसलिए कि झूठी शिकायत करना भी तो अपराध है ... ( नेता जी पांच मिनट सन्न रहने के बाद बोले ) हाँ ये उपाय बिलकुल सही रहेगा, क्योंकि भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले भी भली-भाँती जानते हैं कि भ्रष्टाचार के आरोपों का प्रमाणित होना, एक तरह से असंभव ही है, भ्रष्टाचार के खिलाफ आवाज उठाने वाले १० साल की सजा सुनकर, फटी में आवाज ही नहीं उठाएंगे, ये हुई कोई बात, आपके चरण कहाँ हैं ... क्यों, क्या हो गया ! ... अरे भाई, अब आपका आशीर्वाद लेकर ही दिल्ली निकलता हूँ , जय जय भ्रष्टाचार ... जय जय भ्रष्टाचार ... !!!

20 comments:

ललित शर्मा said...


जय जय भ्रष्टाचार ... जय जय भ्रष्टाचार

एंजिल से मुलाकात

अरविन्द जांगिड said...

सुन्दर लेखनी की जागृति अमर रहे!

सरकार विधेयक लाकर उसे चुप करा सकती हैं, जिसे अंजाम की फिकर हो, उसे नहीं जो ऊपर वाले को दिल में लिए चलता है.


सार्थक रचना के लिए आपका तहेदिल से साधुवाद.

मनोज कुमार said...

आपके इस आलेख पर एक पैरोडी बनाने आ मन बन गया,
न इज़्ज़त की चिंता
न फ़िकर किसी व्यवहार की
जय बोलो भ्रष्टाचार की
जय बोलो भ्रष्टाचार की!!

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत करारा व्यंग ..

Dr.J.P.Tiwari said...

chalo bhaii mai bhi swar milata hun -

जय बोलो भ्रष्टाचार की
जय बोलो भ्रष्टाचार की!!


Chhodo shishtaachar ko!
Bhaii chhodi shishtaachar ko!!!

वन्दना said...

अब यही होगा आपने भविष्य दर्शन करा दिये।

ajit gupta said...

बढिया है।

संगीता पुरी said...

अच्‍छा व्‍यंग्‍य लिखा है !!

JAGDISH BALI said...

scathing attack on corruption. Great work done

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

काम चल रहा है.. सूचना अधिकार में कटौती का काम चालू है..

अरूण साथी said...

खुब...शानदार


करारा जबाब


खुब...शानदार

महेन्द्र मिश्र said...

समयचक्र: हिंदी ब्लॉगों के लिए नये एग्रीगेटर के विकल्पों पर ...:

प्रवीण पाण्डेय said...

सही बात है, आजन्म कारावास की सजा हो।

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

आपकी पोस्ट की चर्चा कल (18-12-2010 ) शनिवार के चर्चा मंच पर भी है ...अपनी प्रतिक्रिया और सुझाव दे कर मार्गदर्शन करें ...आभार .

http://charchamanch.uchcharan.com/

deepak saini said...

बहुत करारा व्यंग

Apanatva said...

teekha vyang......

gopal jha said...

bahoot sundar

JHAROKHA said...

uday ji
bahut hi sateek avam prabhav chodne me puri tarah sesashakt aalekh.
bahut hi kduva sach-----
poonam

Er. सत्यम शिवम said...

bahut achi rachna...behad sundar....

मदन मोहन सक्सेना said...

बहुत खूब , शब्दों की जीवंत भावनाएं... सुन्दर चित्रांकन
कभी यहाँ भी पधारें और लेखन भाने पर अनुसरण अथवा टिपण्णी के रूप में स्नेह प्रकट करने की कृपा करें |
http://madan-saxena.blogspot.in/
http://mmsaxena.blogspot.in/
http://madanmohansaxena.blogspot.in/
http://mmsaxena69.blogspot.in/