Monday, February 14, 2011

अब हो गई है मोहब्बत, उम्र के ताने न झौंके जाएं !!

सच ! अब किसी को क्या कहें, कह भी नहीं सकते
अपनी डफ़ली अपना राग है, वाह वाह, वाह वाह !!
...
सदियां गुजर गईं, तेरी मजार पे बैठे बैठे
चलो माफ़ कर दो, जो भी
खता रही हो !
...
ये भी खूब रही, खुद तो निभाते नहीं वादे अपने
उफ़ ! हमसे कहते हैं, किसी और से वादा न करो !
...
प्यार का जिक्र हुआ है तो,चलो एक समझौता कर लें
लड तो लेंगे ही, क्यूं न दो घडी बैठकर बातें कर लें !!

...

हे 'भगवन' ! कल जो हुआ सो हुआ, अफ़सोस नहीं
मुश्किल बडी है, आज निकला हूं तुझे ही साथ लेकर !

...
काश ! तुम भ्रष्टाचारियों पर भी एक नजर डाल देते
दुआएं भी मिल जातीं और भ्रष्टाचारी भी सटक जाते !
...
हांथ तब तक, तुम थामे रहना मेरा
जब तक, तुम तुम न रहो और मैं मैं न रहूं !
...
कल देर रात तक, काम कर लिया था हमनें
अभी सात ही बजे हैं,चलो कुछ देर और सो लें !
...
विदेशी बैंकों में जमा काला धन, सवाल पे सवाल
कोई जवाब नहीं, वापस आयेगा तो आखिर कब !
...
मोहब्बत तो मोहब्बत है, मेरे जज्बात न आंके जाएं
अब हो गई है मोहब्बत, उम्र के ताने न झौंके जाएं !!

10 comments:

अरुण चन्द्र रॉय said...

उदय भाई की कवितायेँ सदैव ही प्रभावित करती हैं.. इसी क्रम में एक और सुन्दर कविता... प्रेम को बहुत ही सहजता और व्यावहारिकता से प्रेम के पर्व पर सुन्दरता से अभिव्यक्त किया गया है... बहुत सुन्दर...

संजय भास्कर said...

प्रेम के पर्व पर सुन्दरता से अभिव्यक्त किया गया है... बहुत सुन्दर...

संजय भास्कर said...

प्रेमदिवस की शुभकामनाये !

mukes agrawal said...

उम्र के ताने न झौंके ...प्रेमदिवस की शुभकामनाये

mukes agrawal said...

उम्र के ताने न झौंके ...प्रेमदिवस की शुभकामनाये

सुरेश शर्मा (कार्टूनिस्ट) http://cartoondhamaka.blogspot.com/ said...

बहुत बढ़िया ..बेहतरीन ..लाजवाब !

राजेश सिंह said...

आंके जाने पर भी खरे ही उतरेंगे.

OM KASHYAP said...

बहुत बढ़िया
प्रेमदिवस की शुभकामनाये !

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

अन्तिम वाला तो फिदा जी के लिये है..

राज भाटिय़ा said...

विदेशी बैंकों में जमा काला धन, सवाल पे सवाल
कोई जवाब नहीं, वापस आयेगा तो आखिर कब !
जब जनता इन्हे जुते मार मार कर भगायेगी तब