Saturday, July 14, 2018

तिकड़म

कभी आपको
खुद रास्ता .. खुद सीढ़ी ..
तो कभी खुद पीठ बनना होगा,

वर्ना
पिछड़ जाओगे .. बिछड़ जाओगे ..
किसी से,

ये मायावी संसार है
यहाँ
तिकड़म, तीन-पांच-तेरह, पांच-तीन-अठारह ..
बहुत जरूरी हैं !

~ उदय

Saturday, July 7, 2018

कर्म और भाग्य

लघुकथा : कर्म और भाग्य
-------------------------------
एक दिन ... 'कर्मदेव' और 'भाग्यदेव' .... इस बात पर आपस में बहस करते हुए कि - मैं बड़ा हूँ, मैं सर्वेसर्वा हूँ, मैं महान हूँ, इत्यादि तर्कों के साथ तू-तू मैं-मैं करते हुए  'महादेव' के पास पहुँचे ...

'महादेव' समझ गए कि - समस्या अत्यंत गंभीर है तथा तर्कों के माध्यम से इन्हें समझा पाना कठिन है इसलिए ...

'महादेव' ने उन्हें पृथ्वीलोक भेजते हुए कहा कि - आप दोनों सभी मनुष्यों के कर्मों और भाग्यों का अध्ययन कर के आओ, फिर मैं तुम्हें बताऊँगा कि तुम दोनों में ज्यादा महान कौन है ....

यह कहते हुए 'महादेव' अंतरध्यान हो गए तथा 'कर्मदेव' और 'भाग्यदेव' पृथ्वी की ओर कूच कर गए ... 'कर्मदेव' और 'भाग्यदेव' का पृथ्वी पर ... अभी तक शोध जारी है कि दोनों में ज्यादा महान कौन है .... ?

~ उदय

Thursday, July 5, 2018

मायानगरी

ये मायानगरी है दोस्त
यहाँ
सब भ्रम है
धोखा है
छल है ...

खाली हाथ आये थे
खाली हाथ ... .... जाना है

ये तिलस्म, ये खजाने, ये कारीगरी
सब यहीं की है

पर, हम,
यहाँ के नहीं हैं .... ?

~ उदय

Tuesday, July 3, 2018

गड़े मुर्दे

हम गड़े मुर्दे खोदेंगे ...
उखाड़ेंगे

नीबू-मिर्ची का भोग लगाकर
उन्हें जगायेंगे

फिर आधा लाल और आधा काला टीका लगाकर
हम अपनी मर्जी के माफिक
उनकी सवारी निकालेंगे

कुछ लोग ...
यह देखकर ड़र जाएंगे, घर से बाहर नहीं निकलेंगे
और जो निकलेंगे ..
वे डरकर नतमस्तक हो जाएंगे

इस तरह, हम, अपना मकसद साध लेंगे
हम जीत जायेंगे .... !!

~ उदय

Friday, June 29, 2018

तुम गुड्डू के गुड्डू ही रहे !

जब कोई लड़की तुम्हें नकार दे
तो
इसका मतलब ये नहीं है
कि -
तुम हैंडसम नहीं हो
क्यूट नहीं हो
चार्मिंग नहीं हो

तुम यह भूल रहे हो
कि -
तुम जिस पर लट्टू हुए थे

वह लड़की ...

टीशर्ट और मिनी स्कर्ट पहने हुए थी
हाई हिल सैंडिल .. और ...
बड़ा गोल साइज का गॉगल उसकी पहचान थी

तुम गुड्डू के गुड्डू ही रहे
यह नहीं टटोल पाये
कि -
उसकी चॉइस सलमान खान से कम कैसे हो सकती है ?

~ उदय