Wednesday, June 9, 2010

कम आन बेबी !!!

छोडो दोस्तो
अब समय बदल गया है
हां सच है
समय बदल गया है
सुहागरात की सेज तो है
पर अब वो घूंघट नहीं है
उठाने-उठवाने का
झंझट भी नहीं है
हाईटेक जमाना है
अब किसे शर्माना है
छोडो, जाने दो
स्टाईल तो है
पर अब हिन्दी का नहीं
अंग्रेजी का है
कम आन बेबी
लेटस डाई फ़ार ईच अदर
वी मेड फ़ार ईच अदर !

16 comments:

Jandunia said...

सुंदर रचना

संजीव तिवारी .. Sanjeeva Tiwari said...

कम आन बेबी .... वाह !

दिलीप said...

achcha prayaas...

गिरीश बिल्लोरे said...

जै हो कम ओन

राजकुमार सोनी said...

काफी डेंजर रचना है।

राजकुमार सोनी said...

वैसे भाई ये बेबी है कौन।

राजकुमार सोनी said...

एक बेबी जो बेबो है वह तो शायद करीना कपूर है, लेकिन वह तो पटौदी के छोकरे के साथ..
पता करता हूं ये बेबी है कौन।

mrityunjay kumar rai said...

the said baby or so called moderns are just Looser. the are looser of very long rich culture which is more than five thousand years old. but these loosers have no regret on this.

सूर्यकान्त गुप्ता said...

what a nice article
"come on baby" सब मन की भड़ास है। हम लोग करें भी क्या? यहीं उतार लेते है। आप के भीतर भी उमड़ने घुमड़ने लगता है तेजी से विचार और लगता है एक दिन मे लिख ले हैं कम से कम पोस्ट चार

Udan Tashtari said...

जमाना बदल गया है जी!

M VERMA said...

बदलते हुए परिदृश्य हैं

Suman said...

nice

आचार्य जी said...

आईये सुनें ... अमृत वाणी ।

आचार्य जी

Shekhar Kumawat said...

वाह वाह

प्रस्तुति...प्रस्तुतिकरण के लिए बहुत बहुत धन्यवाद

prashanthindustani said...

sach kaha ab na bo ghughat raha ba use uthane vale... ab sab badal gaya hai ab na vo seeta rahi na raam jaise chahne vale...
bahut khubsurat rachna hai...

संजय भास्कर said...

जमाना बदल गया है