Wednesday, September 7, 2011

बम धमाके और राजनैतिक रोटियाँ !!

कब तक बम धमाके
हमें
धमकाते रहेंगे
कब तक
हम एक-दूजे पे
लानत मढ़ते रहेंगे !
और कब तक
जनमानस को झूठे-सच्चे
दिलासे देते रहेंगे !
क्या
लानत मढ़ने
और झूठे-सच्चे दिलासों से
बम धमाके थम जायेंगे !
या फिर
आमजन, यूं ही
बम धमाकों की चपेट में आते रहेंगे
क्षित-विक्षित होते रहेंगे
बेवजह मरते रहेंगे !
और, हम, कोई
सशक्त कदम न उठाते हुए
ऐसे ही ढुल-मुल
व्यानबाजी कर-कुरा कर
राजनैतिक रोटियाँ सेंकते रहेंगे
कब तक, आखिर कब तक ... !!

2 comments:

केवल राम : said...

यह बम धमाके हम और हमारी शासन व्यवस्था.....!

प्रवीण पाण्डेय said...

काश कोई मलहम लगाया जाये।