Sunday, April 3, 2011

उड़ान ...

गर हम चाहें
तो
आसमां छू लें
पर हम
ऐसा
चाहते कब हैं !

आओ चाहें
चाहतों
को बढ़ा लें हम
ये जमीं, ये आसमां, घूम लें हम !

बस
घड़ी
-दो-घड़ी का, सफ़र होगा
आओ चलें
आजमा लें हम !

जज्बे, हौसले, इरादों संग
चलो, एक छोटी सी उड़ान भर लें !!

6 comments:

Apanatva said...

khoobsoorat khwahish....

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

बहुत सुन्दर

Manpreet Kaur said...

बहुत ही उम्दा शबदो का इस्तमाल करते हुए ! मज्जा अ गिया ! हवे अ गुड डे !
Music Bol
Lyrics Mantra
Shayari Dil Se
Latest News About Tech

प्रवीण पाण्डेय said...

आईये भर लें, छोटी सी उड़ान।

Kailash C Sharma said...

बहुत सुन्दर...

रूप said...

sundar rachna , mere blog par bhi tashreef layen !