Friday, July 23, 2010

शेर

...............................
हमने यूं ही कह दिया, क्या माल है
वो पलट कर आ गये, कहने लगे खरीद लो।
...............................

7 comments:

संगीता पुरी said...

वो तो पीछे ही पड गए .. कहने लगे खरीद लो !!
ये माडर्न युग की लडकियां हैं !!

ललित शर्मा said...

वाह!क्या बात कही है श्याम भाई
शेर का भी बब्बर शेर बना दिया।

एक हजार दाद है इस पर

Udan Tashtari said...

:)

सूर्यकान्त गुप्ता said...

क्या बात है ललित भाई की टिप्पणी "…………………एक हजार दाद है" उसके आगे………"यह पोस्ट तो एकदम उर्वरकता बढ़ाने वाला यूरिया खाद है" :)

उठा पटक said...

बढिया शेर!

संजय भास्कर said...

शेर
शेर
शेर
शेर
शेर
.....बढिया शेर!

संजय भास्कर said...

वाह!क्या बात कही है