Sunday, June 13, 2010

क्षमा जी ... आप कन्फ़्यूज न हों !!!

मेरी पिछली पोस्ट पर आदरणीय क्षमा जी ने अपनी टिप्पणी में एक प्रश्न खडा किया है जो निम्न प्रकार है :-

kshama
said...

Bhukamp hua tha ya nahi?

June 13, 2010 11:31 AM

इस प्रश्न का उत्तर इस प्रकार है :-

'उदय' said...

@kshama
...आप कन्फ़्यूज न हों ... सत्य घटना है ... अभी तक तो पेपर व टेलिविजन पर पढा-सुना था ... पर स्वयं साक्षात महसूस करने का अनुभव हुआ ... मेरे जीवन का एक अनमोल क्षण है जिसे मैंने महसूस किया है ... तूफ़ानी हवा / बबंडर / मुसलाधार वारिश बगैरह बगैरह को अनेक बार सामने महसूस किया है पर भूकंप से धरती की कंपन महसूस करना ... एक अदभुत नजारा था ... मैंने लिखा है मुझे आश्चर्य ही हुआ कि ये क्या हुआ ... दूसरे दिन यदि पेपर में नहीं छपता तो ... बात आई-गई हो जाती ... खैर इतना ही कहूंगा ... एक अदभुत अनुभूति रही जो जीवन भर याद रहेगी !!!!

June 13, 2010 6:42 PM

... अंत में इतना ही कहूंगा कि ... जो लोग भूकंप के चपेट में आये हैं वो भलीभांति जानते हैं भूकंप क्या होता है !!! ... मैं तो सिर्फ़ इतना ही कहूंगा कि ... एक क्षण ने मुझे इतना तो एहसास करा ही दिया है कि ... ये संसार कब काल के गाल में चला जाये ... तनिक भी आश्चर्य नही होगा !!!!

... ईश्वर ऎसी होनी-अनहोनी से सबको बचाए ... यही प्रार्थना करता हूं .... !!!!

5 comments:

दिलीप said...

sirji aapka bhookamp to kisi ne seriously liya hi nahi lagta hai...

kshama said...

Jawab ke liye dhanywad!
Haan! Janti hun,bhookamp kitna pralankari ho sakta hai...yaaden taza hain..

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

मंगलवार 15- 06- 2010 को आपकी रचना ( जीवन पथ )... चर्चा मंच के साप्ताहिक काव्य मंच पर ली गयी है


http://charchamanch.blogspot.com/

संजय भास्कर said...

samajh nahi aaya acharya uday ji

वन्दना said...

hamne to bachpan se na jaan ekitni bar mahsoos kiye hain bhukamp ke jhatke jankar aashcharya huaa ki aapne pahli baar mehsoos kiya magar han ye sach hai jo pahli baar mehsoos karte hain unka kyaa haal hota hai.