Sunday, June 6, 2010

.... धन्य है ब्लागदुनिया !!!

ब्लागजगत में कदम रखते समय कभी नही सोचा था कि "ब्लागदुनिया" सचमुच इतनी मायावी व प्रभावी होगी ... सचमुच चमत्कार से कम नही है .... न जाने कितने महापुरुषों से परिचय करा दिया ... सचमुच धन्य है ब्लागजगत !!! ... एक ऎसा प्लेटफ़ार्म जो अंतर्राष्ट्रीय पहचान देता है ... अदभुत है ... इसी क्रम में ... आप जानते हैं मैंने पिछली पोस्ट पर उल्लेख किया था कि आचार्य जी से मायावी ढंग से परिचय हो गया उन्होंने मुझे जो मान दिया ... सचमुच मैं उनका आभारी हूं ...

... आध्यात्म की ओर बढते कदम में ... कल मैंने एक लेख लिखा जिसे आचार्य जी को ईमेल कर दिया इस आशा के साथ ... संभवत: उन्हे पसंद आ जाये और उनके ब्लाग पर स्थान मिल जाये ... यही हुआ ... अभी सुबह उठकर देखा मेरा लेख प्रकाशित है ... कल क्या है !... आप सभी से भी आग्रह है कि आप मेरे आध्यात्मिक लेख पर अपनी अपनी "कडुवी अथवा मीठी" प्रतिक्रिया अवश्य प्रदान करें ... धन्यवाद ... आभार .... सचमुच .... .... धन्य है ब्लागदुनिया !!!

17 comments:

Arvind Mishra said...

आप कम धन्य हैं ?

Udan Tashtari said...

जा रहे हैं देखने..

'उदय' said...

@Arvind Mishra
... आपका बडप्पन है ...आभार !!!

arvind said...

dhanya hai blogduniya.......dhanya hai aachaaryaji.........dhanya hain aap bhi......jai ho.

संजय भास्कर said...

..dhanya hai aachaarya ji..

संजय भास्कर said...

..dhanya hai aachaarya ji..

संजय भास्कर said...

Acharya Shyam kori uday ki jai......

'उदय' said...

@संजय भास्कर
... आपकी भी जय संजय जी !!!

Shekhar Kumawat said...

sahi kaha he aap ne blog waqy me bahut mayavi he

aane wale waqt me or jayada chamat kari hone wala he to hame uske ke liye teyar rahna chahiye or iske chamatkaro ka bharpur fayda uthana chahiye

http://guftgun.blogspot.com/

पापा जी said...

आप चमत्कारी है, पहचानने मे भूल हो गई थी

दिगम्बर नासवा said...

अभी जा कर देखता हूँ उदय जी ,.....

kshama said...

Dekh lete hain abhi..shayad kuchh samajh aa jay!

बगावत सिंह said...

सच कह रहे हो उदय ये दुनिया ऐसी ही है , मगर थोडे से प्रयासों से इसे खूबसूरत बनाया जा सकता है और ये बगावत सिंह इस काम को करने वाले हर ब्लोग्गर का साथ देगा ।

मनोज कुमार said...

अभी जा कर देखता हूँ उदय जी ,...

दादा जी said...

आप अच्छा लिख रहे हो। हर दिन नया-नया विषय उठाते हो.. दादाजी की शुभकामनाएं

'उदय' said...

@दादा जी
...स्वागतम ...स्वागतम ...स्वागतम ...!!!

सूर्यकान्त गुप्ता said...

आचार्य जी! प्रणाम्। अभी टिप्पणी इतना ही कि हम जाकर आपका ब्लोग देखते है। और फिर देते हैं अपनी प्रतिक्रिया।