Wednesday, May 13, 2009

शेर - 38

अभी भी वक्त है यारा, पलट के देख ले हमको
खुदा जाने, फिर कभी मौका न आयेगा ।

1 comment:

Babli said...

बहुत बहुत शुक्रिया आपके सुंदर टिपण्णी के लिए!
बहुत ही अच्छा लगा! लिखते रहिये!