Wednesday, February 15, 2012

प्यार ...

सच ! किसी न किसी दिन
किसी न किसी से
प्यार तो होना ही था
यही सोचकर
सोचा, कि -
क्यूँ न, तुम से -
प्यार कर लिया जाए !
फिर, तुम, मुझे
अच्छी भी तो लगती हो !!

4 comments:

indianrj said...

बहुत खूब!

प्रवीण पाण्डेय said...

ठीक ही है..

arvind said...

acchha hai....

vidya said...

बहुत सुन्दर!!!!!