Thursday, April 7, 2011

... सच ! कहीं ये बिल, बहुतों की जान न ले ले !!

जन जन का खून खौलने लगा है, भ्रष्टाचारियों को देख
एक सच्चा और अच्छा रास्ता है, जन लोकपाल बिल !
...
उफ़ ! भ्रष्टतम नेताओं को शर्म भी नहीं आती
लगे हैं, आन्दोलन को गलत साबित करने में !
...
आज मौक़ा हंसी है, बढ़ो, लड़ लो, इन से लड़ लो यारो
मारो, मार डालो, कहीं भ्रष्टाचारी शैतान बन जाएं !!
...
सरकार अगर चाहे तो, अपनी साख बचा सकती है
जन लोकपाल बिल पारित कर दे, मान बढ़ा ले ! !
...
कुछ महानुभाव भ्रष्टाचार के सवाल पे, गठबंधन को दोषी ठहरा रहे थे
अब देखें जन लोकपाल के मसले पर, कौन क्या-क्या बड-बडाता है !
...
जन लोकपाल बिल के नाम से नेता डरे सहमे हुए हैं
सच ! कहीं ये बिल, बहुतों की जान ले ले !
...
संविधानिक दुहाई दे देकर, भ्रष्ट नेता-अफसर बच नहीं सकते
गर भ्रष्टाचार मिटाना है तो जन लोकपाल बिल लाना ही होगा !
...
उफ़ ! जनता द्वारा चुने हुए नेता, जीते हुए होने का दम भर रहे हैं
गर जन लोकपाल बिल अटका, तो चुनाव में टांय-टांय फुस्स !!

3 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

धड़कन तो निश्चय ही बढ़ायेगा।

भारतीय नागरिक - Indian Citizen said...

काश ऐसा हो जाये..

Mantra Insight said...

neta kya aam jantaa bhee nahin chaahtee aisa kaanoon bane. kyonki uska number sabse pahle aayega.