Wednesday, August 18, 2010

टेलीविजन कार्यक्रम के दौरान रिपोर्टर व नेता के बीच हुई मारपीट !

टेलीविजन न्यूज चैनल्स के रिपोर्टर, एंकर, सब-एडिटर, एडिटर आप सभी महानुभाव ज़रा संभल कर ... अरे संभलने से मेरा तात्पर्य यह है की आये दिन आप लोग चर्चा-परिचर्चा, साक्षात्कार प्रायोजित करते रहते हैं कहीं ऐसा न हो कि जो ब्राजील ... ब्राजील में एक साक्षात्कार कार्यक्रम के दौरान एक नेता ने रिपोर्टर को पीट डाला ... जब नेता जी गुस्से में नजर आये तो कार्यक्रम को बीच में ही ब्रेक कर दिया गया ... हुआ दरअसल यह कि रिपोर्टर ने जब नेता जी से प्रश्न-पर-प्रश्न दागना शुरू किये तो नेता जी उटपटांग प्रश्नों को सुनकर गुस्से में आ गए और आव देखा न ताव सीधे रिपोर्टर पर पिल पड़े ... स्थिति मारपीट तक पहुँच गई ... दोनों ने आपस में एक-दूसरे को पीट डाला ... इस बात की स्वीकारोक्ति बाद में रिपोर्टर ने की तथा नेता के विरुद्ध शिकायत भी दर्ज कराई गई ... भैया ये तो रही ब्राजील की बात अपने देश में भी अक्सर ऐसी स्थिति निर्मित हो ही जाती है ... पर अब ज़रा संभल कर रहने की जरुरत है कहीं किसी दिन किसी लाइव प्रोग्राम में ही ऐसी स्थिति निर्मित न हो जाए और दर्शक एक नए कार्यक्रम का भरपूर आनंद उठा लें !!!

3 comments:

छत्तीसगढ मीडिया क्लब said...

सुन्दर पोस्ट, छत्तीसगढ मीडिया क्लब में आपका स्वागत है.

कामरूप 'काम' said...

नमस्कार,

हिन्दी ब्लॉगिंग के पास आज सब कुछ है, केवल एक कमी है, Erotica (काम साहित्य) का कोई ब्लॉग नहीं है, अपनी सीमित योग्यता से इस कमी को दूर करने का क्षुद्र प्रयास किया है मैंने, अपने ब्लॉग बस काम ही काम... Erotica in Hindi. के माध्यम से।

समय मिले और मूड करे तो अवश्य देखियेगा:-

टिल्लू की मम्मी

टिल्लू की मम्मी -२

Majaal said...

हमारे यहाँ स्तिथी कुछ भिन्न है. यहाँ अगर पत्रकार नेता को जूता भी मारे तो उसे छोड़ दिया जाता है और इससे नेता का सम्मान भी बढ जाता है. तो यह स्पष्ट है, की नेता भी इसे निर्विवादित मानते है की वो जूते खाने के ही लायक है!