Friday, May 31, 2013

दीवानगी ..


कल तक उनकी फेसबुकिया तस्वीरों ने खूब चौंकाया है हमें
सच ! आज मालुम पडा, बेटा उनका नौंबी पास हो गया है ?
...
हाँ हम 'उदय', उनकी बातों पे मुहर जरुर लगा देंगे
पर, खुद में तो ढूँढ लें.......दो-चार आदमी पहले ?
...
बड़ा जालिम है यार मेरा
दोस्ती टूटी, तो दुश्मनों में नाम लिख रक्खा है मेरा ?
 ...
चलो, अब हम, खुद ही उनसे दूर हो लें 'उदय'
सच ! उनकी दीवानगी की इन्तेहा, अब हमसे देखी नहीं जाती ?
...
मर्जी मर्जी है, उनकी भी अपनी मर्जी है
वो, जहां चाहेंगे वहां टिकाएंगे उसको ??
... 

2 comments:

प्रवीण पाण्डेय said...

सच है, दीवानगी होती ऐसी है।

Oz said...

Excelente post amigo, muchas gracias por compartirlo, da gusto visitar tu Blog.
Te invito al mio, seguro que te gustará:
http://el-cine-que-viene.blogspot.com/

Un gran saludo, Oz.